गूगल सेफ्टी सेंटर क्या हैं ?

नमस्कार दोस्तों, हिंदी अपडेट (Hindi Update) में आपका स्वागत हैं | हम यहाँ पर आप सभी लोगों के लिए सारी जानकारी हिंदी में लेकर उपस्थित हुए हैं | दोस्तों आज हम आपको “गूगल सेफ्टी सेंटर क्या हैं ? (What is Google Safety Centers)” के बारे में बताने जा रहे हैं अगर आपको गूगल सेफ्टी सेंटर के बारे में पूरी जानकारी चाहिए तो हमारे इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़े | हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से इसके बारे में पूरी जानकारी प्रदान करेंगे |

दोस्तों, गूगल दुनिया का सबसे बड़ा सर्च इंजन हैं और इस पर सभी लोग विश्वास भी करते हैं कि गूगल हमारी पर्सनल जानकारी को ऑनलाइन सुरक्षित रखने में पूरी Security प्रदान करता हैं | इसलिए गूगल ने शुरुआत से ही लोगों का जीवन आसान बनाने के लिए बहुत से उपयोगी टेक्नोलॉजी प्रोडक्ट और सर्विस का निर्माण किया हैं |

इसी क्रम में एक कदम आगे बढ़ते हुए गूगल ने गूगल सेफ्टी सेंटर की शुरुआत की हैं | इनका मुख्य मकसद हैं लोगों को ऑनलाइन सुरक्षित रहने में मदद करना, क्योंकि गूगल यह बात अच्छी तरह से जानता हैं की जब लोग उसके प्रोडक्ट का इस्तेमाल कर रहे हैं और उसपर भरोसा करते हैं तो गूगल का भी हक़ बनता हैं की गूगल उसकी Security प्रदान करे |

Google Safety Center की मदद से यूज़र्स को ऑनलाइन सुरक्षा प्रदान की जाएगी | जिससे उसके Internet इस्तेमाल करने के समय उनका डाटा Secure रहे | तो चलिए जानते हैं की गूगल सेफ्टी सेंटर क्या हैं और यह किस तरह से हमारी ऑनलाइन सहायता करेगा |

गूगल सेफ्टी सेंटर क्या हैं ? (What is Google Safety Center in Hindi)

Google Safety Center

Google Safety Center एक वेबसाइट हैं जिसे गूगल के द्वारा बनाया गया हैं | यह आपके Family Members या Friends को इंटरनेट पर ऑनलाइन सुरक्षित रखने की जानकारी प्रदान करेगा | इस वेबसाइट को डिज़ाइन इस लिए किया गया हैं ताकि आपको समय-समय पर इंटरनेट पर होने वाली गलत गतिविधियों की जानकारी प्रदान करते रहे और आपको Safe रखने में मदद करती रहे |

> अपने पर्सनल डाटा को हैकर्स से कैसे बचाएं

गूगल द्वारा इस वेबसाइट को बनाने की यही वजह हैं की वह अपने सभी उपयोगकर्ताओं के लिए डाटा सुरक्षा गोपनीयता नियंत्रण और ऑनलाइन सुरक्षा जैसे महत्वपूर्ण विषयों पर लोगों को शिक्षित और सशक्त बनाने के लिए इस वेबसाइट में अधिक से अधिक जानकारी देना चाहता हैं | इसके अतिरिक्त इस वेबसाइट में आप यह भी पता कर सकते हैं की गूगल आपकी प्राइवेसी के लिए कौन-कौन से Tools उपलब्ध करा रहा हैं |

Google Safety Center भारत में अभी तक 9 भाषाओं में उपलब्ध हैं जो हिंदी, मराठी, गुजराती, बंगाली, कन्नड़, मलयालम, तेलगु, तमिल और उर्दू में हैं और भविष्य में यह लगभग 65 भाषाओं में उपलब्ध होगा | इसे बनाने का कारण यह हैं की इंटरनेट पर किसी भी प्रकार की घटने वाली घटने वाली घटना की सुरक्षा की जानकारी प्रदान करना हैं जिससे किसी भी यूजर के साथ धोखाधड़ी न हो सके |

यह ऑनलाइन सुरक्षित रहने के कैसे मदद करता हैं ? (How does it help to stay safe online)

Google Safety Center सुरक्षा की तहत अपने यूज़र्स को कई तरह से ऑनलाइन सुरक्षा देने की जानकारी उपलब्ध कराता हैं जिसको जानकर यूज़र्स इंटरनेट पर सेफ रह सके और अपनी पर्सनल जानकारी को गोपनीय बना सके | यह आपको ऑनलाइन सुरक्षित रखने के लिए अच्छी से अच्छी और Industry-Leading Security जानकारी देगा और आपको सुरक्षित रखेगा |

> Web Hosting क्या हैं, और ये कितने प्रकार की होती है |

इसके अतिरिक्त यह आपको बताएगा की आपके परिवार और बच्चों के लिए क्या चीज सुरक्षित हैं और क्या चीज सुरक्षित नहीं हैं | अगर आप गूगल सेफ्टी सेंटर पर जाना चाहते हैं तो अपने ब्राउज़र के द्वारा इस लिंक https://safety.google/ को ओपन कर सकते हैं | तो चलिए जानते हैं की गूगल सेफ्टी सेंटर सुरक्षित रहने में कैसे मदद करता हैं |

मजबूत पासवर्ड का प्रयोग करे

हमें कोई भी ऑनलाइन कार्य जैसे Email, Net Banking, Payments App के लिए Username और Password की आवश्यक्ता पड़ती हैं और Password एक ऐसी चीज होती हैं जिसे हम किसी दूसरे के साथ शेयर नहीं कर सकते हैं | एक रिपोर्ट के अनुसार बहुत सारे लोग अपने पासवर्ड के लिए अपना नाम या 123456 डाल देते हैं जो की ठीक नहीं हैं |

> डिजिलॉकर (Digilocker) क्या है, और इसका उपयोग कैसे करे ?

इन सभी महत्वपूर्ण खातों के लिए आपको एक मजबूत पासवर्ड रखना चाहिए और हाँ एक ही पासवर्ड को अपने दूसरे खातें में नहीं रखना चाहिए |इसके अलावा आपको अपने पासवर्ड को समय-समय पर अपडेट भी करते रहना चाहिए |

धोखाधड़ी से बचे

जब कभी भी आपको Mail या Call के द्वारा बताया जाता हैं की आपको इतने रूपए की लाटरी लग गयी हैं या आप इतने रूपए जीत गए हैं | इसके लिए आपको कुछ करने की जरुरत नहीं हैं और आपको अपनी पर्सनल जानकारी को हमसे शेयर करना हैं तो मैं आपको बता दूँ की आपको कोई भी ऐसी जानकारी नहीं देना हैंजिससे वह आपकी जानकारी का गलत फायदा उठा सके | 

अपनी पहचान किसी से शेयर करे

आपको अपनी पहचान किसी से शेयर नहीं करनी चाहिए, क्योंकि बहुत सारी ऐसी Link या Web Page होते हैं जो आपको Massage या Mail के माध्यम से आपको कुछ न कुछ भेजते रहते हैं |आपको ऐसे किसी भी Massage, Mail या Web Page पर रिप्लाई नहीं  करना हैं जो संदेहपूर्ण हो| इसके अलावा यदि आप किसी लिंक या वेब पेज पर जाते हैं तो आपका पासवर्ड कभी भी शो नहीं करना चाहिए जिससे आपके अकाउंट के हैक होने का खतरा हो |

नेटवर्क को सुरक्षित रखे 

आपको हमेशा Safe और  Secure Network का ही इस्तेमाल करना चाहिए, क्योंकि अगर हमें फ्री की वाई-फाई मिल जाती हैं तो हम सब बिना सोचे समझे इसका इस्तेमाल करने में लग जाते हैं लेकिन अगर कोई हैकर उस फ्री वाई-फाई का इस्तेमाल कर रहा है तो वह आपका डाटा आसानी से हैक कर सकता हैं इसलिए आप जब भी फ्री वाई-फाई का इस्तेमाल कर तो बहुत सोच समझ कर करे |

निष्कर्ष (Conclusion)

हमने इस पोस्ट में आपको गूगल सेफ्टी सेंटर क्या हैं ? (What is Google Safety Centers)के बारे में बताने का प्रयास किया | मुझे उम्मीद है की आपको मेरा यह लेख जरूर पसंद आया होगा | अगर आपके मन में इस Article को लेकर कोई भी Doubts है या आप चाहते है की इसमें कोई सुधार हो तो आप हमें नीचे दिए Comment करके बता सकते हैं | जहाँ पर आपकी परेशानी को हल करने की कोशिश हमारी पूरी टीम करेगी | अगर आपको हमारा पोस्ट पसंद आया तो आप हमारी इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा Social Media पर Share भी कर सकते हैं |    

Share

Snehil Goyal

नमस्कार दोस्तों, मैं स्नेहिल हिंदी अपडेट (Hindi Update) का संस्थापक हूँ, Education की बात करूँ तो मैं Graduate हूँ, मुझे बचपन से ही लिखने का काफी शौक रहा हैं इसलिए यहाँ पर मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी और मददगार जानकारी शेयर करता रहता हूँ |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *