<

15 अगस्त क्यों मनाते हैं ?

नमस्कार दोस्तों, हिंदी अपडेट (Hindi Update) में आपका स्वागत हैं | हम यहाँ पर आप सभी लोगों के लिए सारी जानकारी हिंदी में लेकर उपस्थित हुए हैं | दोस्तों अगर आपको “15 अगस्त क्यों मनाते हैं ? (Why Celebrate 15 August)” के बारे में जानना हैं तो हमारे इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़े | हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से 15 अगस्त के बारे में पूरी जानकारी प्रदान करेंगे |

भारत के नागरिक होने के नाते बहुत सारे लोगों के मन में यह प्रश्न जरूर उठता हैं की आखिर 15 अगस्त (स्वतंत्रता दिवस) क्यों मनाया जाता हैं ? क्यों हर वर्ष देश के प्रधानमंत्री लाल किले से तिरंगा फहराते हैं | तो दोस्तों यह इसलिए की 15 अगस्त 1947 को हमारा देश ब्रिटिश शासन की गुलामी से आज़ाद हुआ था |

15 अगस्त का यह दिन हर भारतवासी के लिए किसी त्यौहार से कम नहीं होता हैं | क्योंकि लगभग 200 वर्ष के बाद हमें अंग्रेज़ों से आज़ादी मिली थी इसलिए इस दिन को आज़ादी का दिन भी कहा जाता हैं | भारत में पहला स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त 1947 को मनाया गया था | तब से ये आज तक हर वर्ष धूमधाम से मनाया जा रहा हैं |

15 अगस्त 1947 को भारत एक स्वतंत्र राष्ट्र बना था इसी कारण इस दिन को याद रखने के लिए हर वर्ष एक राजपत्रित छुट्टी आयोजित होती हैं क्योंकि इस दिन सभी कार्यालय (राष्ट्रीय एवं राज्य सरकार), पोस्ट ऑफिस, बैंक, दुकाने, बाजार, व्यापार एवं सभी संस्थान बंद रहते हैं | इस दिन को पुरे भारत में बड़े धूमधाम से मनाया जाता हैं |

स्वतंत्रता दिवस क्या है ? (What is Independence Day in Hindi)

स्वतंत्रता दिवस उस दिन को कहा जाता हैं जिस दिन किसी देश को आज़ादी मिली हो | इसे आज़ादी का दिन भी खा जाता हैं | इस दिन राजपत्रित अवकाश होता हैं | इस आज़ादी के दिन को अलग-अलग देशों में अलग-अलग तरीकों से मनाया जाता हैं | इस दिन पुरे देश में देशभक्ति का माहौल रहता हैं और सभी देशवासी आज़ादी का जश्न मनाते हैं |

> महाशिवरात्रि कब और क्यों मनाई जाती हैं

> होली कब और क्यों मनाई जाती हैं ?

> रथयात्रा कब और क्यों मनाया जाता हैं ?

> जन्माष्टमी कब और क्यों मनाया जाता हैं ?

सन 1765 में तत्कालीन मुग़ल सम्राट शाह आलम द्रितीय द्वारा बंगाल के प्रांतों (बंगाल, ओडिशा और बिहार) में दीवानी के अधिकारों को ईस्ट इंडिया कंपनी को दिए जाने से लेकर 1858 में इंग्लैंड की महारानी के द्वारा अपने अधीन किये जाने तक भारत पूरी तरह ब्रिटिश शासन की गुलामी में कैद हो गया था |

सन 1857 में क्रांति की शुरुवात हुई जो 1947 तक चली | जिसके लिए लाखों लोगों ने कुर्बानियां दी | जिसमे मंगल पांडेय, रानी लक्ष्मीबाई, चंद्रशेकर आज़ाद, भगत सिंह, राजगुरु, सुखदेव, बाल गंगाधर तिलक, वीर सावरकर और असंख्य स्वतंत्रता सेनानियों ने अपना बलिदान दिया था | तब जाकर हमें 15 अगस्त 1947 को आज़ादी मिली थी |

भारत कब स्वतंत्र हुआ ?

हमारा देश भारत 15 अगस्त 1947 को अंग्रेज़ों के चंगुल से आज़ाद हुआ था |

15 अगस्त क्यों मनाते हैं ? (Why Celebrate 15 August)

कुछ देशों को छोड़कर दुनिया में ऐसा कोई देश नहीं हैं जो कभी किसी कम्युनिटी का गुलाम न रहा हो | हर देश गुलामी की चंगुल में रहे है और आज भी कुछ देश अप्रत्यक्ष तरीके से गुलाम हैं | हमारा देश भी लगभग 200 वर्षों तक अंग्रेज़ों का गुलाम रहा था और हमें आज़ादी 15 अगस्त 1947 को मिली थी | उसी आज़ादी की यद् में स्वतंत्रता दिवस मनाया जाता हैं |

15 अगस्त के ही दिन अंग्रेज़ों में भारत छोड़ा था और उसी दिन हमारा देश स्वतंत्र घोषित हुआ था | यह भारत के इतिहास का सबसे महत्वपूर्ण दिन था | हर भारतीय इस दिन को बड़ी धूमधाम से मनाते हैं |

वैसे तो भारत के लिए अंग्रेज़ों से स्वतंत्रता प्राप्त करना इतना आसान नहीं था लेकिन कुछ महान लोगों जैसे मंगल पांडेय, रानी लक्ष्मीबाई, चंद्रशेकर आज़ाद, भगत सिंह, राजगुरु, सुखदेव, बाल गंगाधर तिलक, वीर सावरकर और असंख्य स्वतंत्रता सेनानियों ने इसे सच कर दिखाया | उन्होंने अपने पीढ़िओं और परिवार की चिंता की बजाय पुरे भारत की और स्वतंत्रता के लिए अपने प्राण भी त्याग दिए |

15 अगस्त के दिन राजपत्रित अवकाश होता हैं | इस दिन सभी कार्यालय (राष्ट्रीय एवं राज्य सरकार), पोस्ट ऑफिस, बैंक, दुकाने, बाजार, व्यापार एवं सभी संस्थान बंद रहते हैं, हालाँकि सार्वजनिक परिवहन चालू रहते हैं | 15 अगस्त को छात्रों और शिक्षकों द्वारा सभी स्कूल, कॉलेजों और अन्य शैक्षिक संस्थानों में भी इस दिन को धूमधाम से मनाया जाता हैं |

स्वतंत्रता दिवस खासकर देश की राजधानी दिल्ली में बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता हैं | इस दिन लाल किले पर देश के प्रधानमंत्री के द्वारा भारतीय ध्वज फहराया जाता हैं | ध्वज फहराने के तुरंत बाद राष्ट्रीय गीत गाया जाता हैं और राष्ट्रीय ध्वज को सलामी दी जाती हैं |

15 अगस्त का महत्त्व

हर भारतवासी के जीवन में 15 अगस्त का बहुत ही महत्त्व हैं, यही वह दिन था जिस दिन हमारा देश गुलामी से आज़ाद हुआ था, और पहली बार 15 अगस्त को ही तिरंगा हमारे देश के पहले प्रधानमंत्री के द्वारा फहराया गया था | और तब से लेकर आज तक हर वर्ष 15 अगस्त को तिरंगा देश के प्रधानमंत्री के द्वारा फहराया जाता हैं |

इस दिन पुरे देश के स्कूल व कॉलेजों में बड़े और छोटे स्टार के कार्यक्रम आयोजित होते हैं और स्वतंत्रता सेनानियों को याद किया जाता हैं | 15 अगस्त से ठीक एक दिन पहले भारत के राष्ट्रपति देश को सम्बोधित करते हैं और सभी देशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की बधाइयाँ देते हैं |

निष्कर्ष (Conclusion) 

हमने इस पोस्ट में आपको “15 अगस्त क्यों मनाते हैं ?” के बारे में बताने का प्रयास किया | मुझे उम्मीद है की आपको मेरा यह लेख जरूर पसंद आया होगा | अगर आपके मन में इस Article को लेकर कोई भी Doubts है या आप चाहते है की इसमें कोई सुधार हो तो आप हमें नीचे दिए Comment करके बता सकते हैं | जहाँ पर आपकी परेशानी को हल करने की कोशिश हमारी पूरी टीम करेगी | अगर आपको हमारा पोस्ट पसंद आया तो आप हमारी इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा Social Media पर Share भी कर सकते हैं |

Hindi Update

www.hindime4u.in

नमस्कार दोस्तों, मैं स्नेहिल हिंदी अपडेट (Hindi Update) का संस्थापक हूँ, Education की बात करूँ तो मैं Graduate हूँ, मुझे बचपन से ही लिखने का काफी शौक रहा हैं इसलिए यहाँ पर मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी और मददगार जानकारी शेयर करता रहता हूँ |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!